राहुल ने 'मोदी मुर्दाबाद के नारे' लगाने वाले समर्थकों को फिर रोका

राहुल ने 'मोदी मुर्दाबाद के नारे' लगाने वाले समर्थकों को फिर रोका

कानपूर : समाजवादी पार्टी और कांग्रेस की रविवार की कानपुर के गर्वनमेंट इंटर कालेज मैदान में संयुक्त रैली हुई. सभा को पहले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने संबोधित किया और उनकी सरकार द्वारा कानपुर तथा उत्तर प्रदेश में किए गए विकास कार्यों के बारे में विस्तार से बताया.

रैली के दौरान जब कांग्रेस उपाध्यक्ष मंच से भाषण दे रहे थे भीड़ ने मोदी मुर्दाबाद के नारे लगाना शुरू कर दिया. इस राहुल ने कहा, "आप उनके लिए मुर्दाबाद न कहें. अपना गुस्सा दिखाने के लिए सपा-कांग्रेस गठबंधन के पक्ष में वोट दें."

यह दूसरा मौका है जब राहुल गांधी की रैली में 'मोदी मुर्दाबाद' के नारे लगे और राहुल ने दखल देते हुए कार्यकर्ताओं से ऐसा न करने की समझाइश दी थी. इससे पहले 19 दिसंबर को जौनपुर में आयोजित 'जन आक्रोश' रैली में भी ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिला था. तब राहुल ने कार्यकर्ताओं से कहा था, "मुर्दाबाद जैसे शब्दों का प्रयोग करना हमारी संस्कृति नहीं है. वे हमारे प्रधानमंत्री हैं. हमारी राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता जरूर है लेकिन मैं आप सबसे अनुरोध करता हूं कि उनके खिलाफ ऐसे शब्दों का प्रयोग न करें."

Uttar Pradesh, India