अनजान खिलाड़ी ने के.श्रीकांत को खूब छकाया

अनजान खिलाड़ी ने के.श्रीकांत को खूब छकाया

सैयद मोदी इंटरनेशनल ग्रांपी गोल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप अन्य वरीय खिलाड़ियों भी आसान जीते

लखनऊ। तीसरी वरीय गत विजेता भारत के मौजूदा चैंपियन के.श्रीकांत को आज सैयद मोदी इंटरनेषनल ग्रांपी गोल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप के पहले दौर में एक अंजान खिलाड़ी के पहले दौर में एक अंजान भारतीय खिलाड़ी केे सामने जीत के लिए खासा पसीना पड़ा।

बीबीडी यूपी बैडमिंटन अकादमी में खेले जा रहे इस टूर्नामेंट में बुधवार से शुरू हुए मुख्य ड्रा के मुकाबलों में रियो ओलंपिक में क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय करने वाले देश के इस स्टार शटलर को सारंग लखानी पर जीत दर्ज करने के लिए कोर्ट पर तीन गेमों में करीब एक घंटा पसीना बहाना पड़ा। श्रीकांत ने यह मुकाबला 15-21, 21-7, 21-14 से जीता। वहीं अन्य वरीय खिलाड़ियों ने भी असानी से अगले दौर में जगह बना ली है।

श्रीकांत बनाम सारंग के इस मैच में हाल में बैठे दर्शकों को गत चैंपियन श्रीकांत से आसान जीत की उम्मीद थी लेकिन सारंग ने पहले गेम में सबको चौंकाते हुए 21-15 से जीत दर्ज की। हालांकि श्रीकांत ने अपने अनुभव का पूरा इस्तेमाल करते हुए दूसरे गेम में 21-7 से जीत दर्ज की। वहीं श्रीकांत ने आखिरी गेम भी 21-14 से अपने नाम किया। श्रीकांत की 213 मैचों में यह 138वीं जीत है। वहीं सारंग की 48 मैचों में 23वीं हार है।

आज के परिणामः मिक्स डबल्सः

पहले दौर में छठीं वरीय मलेशिया के गोह सून हुआत व शेवोन जेइमी लेई ने भारत के दिनेश चौधरी व ललिता दहिया को 21-6, 21-8 से मात दी।

क्वालीपफायर से मुख्य ड्रा में पहुंचे भारत के तुषार शर्मा व तपस्विनी सामंत राय ने हमवतन गौरव देशवाल व गौरी असाजे को 23-21, 21-22 से मात दी। मलेशिया के योंगेद्रन कृष्णन व भारत की प्राजक्ता सावंत की आठवीं वरीय जोड़ी ने भारत के कशिश शर्मा व जागृति को तीन सेटों तक खिंचे मुकाबले में 21-13, 17-21, 21-11 से हराया। भारत के विग्नेष देवालकर व कूहू गर्ग को पहले दौर में बाई मिली।

महिला डबल्सः

पहले दौर में भारत की अश्विनी पोनप्पा व एन सिकी रेड्डी ने हमवतन जोड़ी जे.अनीश कोवेशर व प्रमादा को 21-8, 21-3 से हराया। भारत की महिमा अग्रवाल व के.मनीषा ने हमवतन आशा राय व फरहा को 21-1, 21-15 से हराया। भारत की अनुष्का पारीख व हरिका ने हमवतन निम्मी पटेल व शारूनि शर्मा को 21-18, 21-17 से हराया। भारत की श्रुति पी. व हरिथा हरिनारायणन ने भारत की रिया पिल्लई व मोहिता सचदेव को 21-13, 21-17 से हराया। भारत की कूहू गर्ग व एनबी हजारिका ने इंडोनेषिया की सिंथिया व देबेारा को 21-13, 21-14 से हराया। भारत की संजना संतोष व आरती सारा सुनील ने भारत की रिया मुखर्जी व करिष्मा वाडेकर को 21-14, 21-15 से हराया। भारत की दीक्षा चौधरी व दीपाली गुप्ता ने हमवतन रूपल आनंद व रूद्राणी जायसवाल को 21-4, 21-8 से हराया। भारत की डिंपल हजारिका व संघमित्रा सेईका ने हमवतन शेहजर चौधरी को 21-17, 21-14 से हराया।

मलेशिया के दूसरी वरीय मेई कुवान चोऊ व ली मेंग येयान, मलेशिया के ही तीसरी वरीय जोड़ी यिन लू लिम व याप चेंग वेन को, भारत की चौथी वरीय जे.मेघना व पूर्विशा एस.राम को पहले दौर में बाई मिली। भारत की जूही देवांगन व आकर्षि कश्यप को पहले दौर में वाकओवर मिला।

पुरूष डबल्सः

पहले दौर में शीर्ष वरीय डेनमार्क के मथाएस बो व कार्सटन मेगानसन ने भारत के साात्विक साई राज व चिराग षेट्टी को 22-24, 21-14, 21-14 से हराया। दूसरी वरीय डेनमार्क के मथाएस क्रिस्टियानसेन व डेविड डुगार्ड ने भारत के कृष्णा प्रसाद गर्ग व धु्रव कपिला को 21-18, 21-14 से हराया। छठीं वरीय सिंगापुर के डैनी बावा व हेंद्रा ने भारत के एम.अनिल कुमार राजू व वेंकट गौरव प्रसाद को 21-4, 21-9 से हराया। भारत के फ्रांसिस एल्विन व के.अरूण ने क्वालीफायर से मुख्य ड्रा में पहुंचे आर.माली व राजेष कृष्णन को 21-10, 21-16 से हराया। भारत के हरिंदर मलिक व सतिंदर मलिक को वाकओवर मिला।

पुरूष सिंगल्सः

दूसरे वरीय डेनमार्क के हेंस क्रिस्टियन ने मो. मुनव्वर को 21-11, 21-12 से, तीसरे वरीय भारत के श्रीकांत ने भारत के सारंग लखानी को 15-21, 21-7, 21-14 से, पांचवें वरीय डेनमार्क के एंडर्स एंटोनसेन ने भारत के किरन जार्ज को 21-9, 21-18 से, छठे वरीय भारत के एचएस प्रणय ने भारत के एनवीएस विजेता को 21-11, 21-9 से, सातवें वरीय मलेशिया के जुलफिकली जुलफादिली ने भारत के सचिन रावत को 21-15, 21-10 से, नवें वरीय भारत के साई प्रणीत ने अपने ही साथी आदित्य जोशी को 21-14, 21-9 से तथा दसवें वरीय मलेशिया के वेई फेंग चांग ने भारत के हर्षित अग्रवाल को 21-11, 21-12 से हराया। आठवें वरीय भारत के समीर वर्मा के खिलाफ भारत के कार्तिक जिंदल ने चोटिल होने के कारण कोर्ट छोड़ दिया।

रक्तदान कल

अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खेल में ऊंचाईयों को प्रदान करने के साथ-साथ एक नई पहल, करते हुए भारतीय बैडमिंटन संघ के अध्यक्ष, भारतीय ओलंपिक संघ के उपाध्यक्ष, बैडमिंटन वर्ल्ड पफेडरेषन के कार्यकारिणी समिति के सदस्य एवं सैयद मोदी इंटरनेशनल बैडमिंटन टूर्नामेंट के चेयरमैन डा.अखिलेश दास गुप्ता ने 27 जनवरी को रेड क्रास सोसायटी के सहयोग से एक रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया है। इसमें बैडमिंटन से सम्बद्ध अंतरराष्ट्रीय अंपायर, कोच, आफिशियल एवं यूपी ओलंपिक एसोसिएशन के पदाधिकारी भी रक्तदान के इस पुनीत कार्य में सहयोग करेंगे। इस रक्तदान शिविर को भारतीय बैडमिंटन टीम के मुख्य कोच पद्मश्री पुलेला गोपीचंद ने भी समर्थन किया है एवं भूरि-भूरि प्रशंसा की है।