शेर के साथ सेल्फी लेकर फंसे सर जडेजा, जांच के अादेश

शेर के साथ सेल्फी लेकर फंसे सर जडेजा, जांच के अादेश

अहमदाबाद: गुजरात वन विभाग ने क्रिकेटर रविंद्र जडेजा की जूनागढ़ में गिर वन्यजीव अभ्ययारण्य में शेर के साथ सेल्फी लेने की कथित घटना की जांच के आदेश दे दिये हैं क्योंकि ऐसा करने की अनुमति नहीं है। यह कथित घटना कुछ दिन पहले ही घटी है। वन विभाग ने पर्यटकों और स्थानीय लोगों को शेरों के साथ सेल्फी लेने के खिलाफ आदेश दिया हुआ है। कुछ फोटों में जडेजा अपनी पत्नी रीवा के साथ शेरों के सामने पोज करते हुए दिख रहे हैं। ये फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गयीं। जूनागढ़ के मुख्य वन सरंक्षक ए पी सिंह ने जांच के आदेश दे दिये हैं और अभ्यारण्य के अधीक्षक को दो दिन के भीतर रिपोर्ट देने को कहा है। सिंह ने कहा, ‘‘कल हमें इस मामले की जानकारी हुई, मैंने इस मुद्दे पर जांच के आदेश दे दिये हैं। मैंने अभ्यारण्य के अधीक्षक को दो तीन दिन के अंदर रिपोर्ट सौंपेने को कहा है। हमन इस रिपोर्ट के आधार पर ही कार्रवाई करेंगे। ’’ गिर वन्यजीव अभ्यारण्य में शेर की सफारी मुख्य आकषर्ण का केंद्र हैं, जिसमें वन विभाग पर्यटकों को अ5यारण्य के अंदर शेर को देखने के लिये खुली हुई जीप मुहैया कराते हैं। हालांकि पर्यटकों को सफारी के दौरान वाहन से नीचे उतरने पर रोक लगी हुई है। जडेजा की एक फोटो 15 जून को ली हुई लगती है। जडेजा और रीवा मैदान पर बैठे हुए दिख रहे हैं ताकि पेड़ के नीचे आराम कर रहा शेर उनके साथ फोटो में आ सके। एक अन्य फोटो में जडेजा शेर की ओर इशारा करते हुए दिख रहे हैं। इसी फोटो में वन विभाग का स्टाफ भी उनके साथ उनके वाहन के करीब खड़ा हुआ दिख रहा है। सिंह ने कहा, ‘इस तरह की चीजें कड़ाई से प्रतिबंधित हैं। हमें देखना होगा कि कोई अपने वाहन से नीचे क्यों उतरा? क्या यह आपात स्थिति थी? हम स्टाफ की भूमिका की भी जांच करेंगे कि उन्होंने वाहन से उतरने के लिये पर्यटकों को अनुमति कैसे दे दी। स्टाफ अगर दोषी पाया जाता है तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जायेगी।’ वन विभाग ने 13 जून को परामर्श जारी किया था क्योंकि लोगों में अपना जीवन जोखिम में डालकर वन क्षेत्र में शेरों के साथ सेल्फी लेने का प्रचलन काफी बढ़ रहा है।